बहन को कुटिया बनाकर चोदा -1

bahen ko kutiya banakar choda -1

हैल्लो दोस्तों, आज में आप लोगों को एक कहानी सुनाने जा रहा हूँ. मेरी 2 बहने है और मेरी पहली बहन जिसका नाम नमिता है और वो 21 साल की है. दोस्तों मैंने अपनी बड़ी बहन नमिता की चुदाई की? लेकिन में आप लोगों को मेरी छोटी बहन सोनिया की चुदाई की दास्तान सुनाने जा रहा हूँ. ऐसा नहीं है कि में सोनिया को शुरू से पसंद करता था, में तो नमिता को पसंद करता था, लेकिन हम लोगों के साथ ऐसी स्थिति बन गई कि मेरी सोनिया के साथ भी चुदाई हो गई. दोस्तों ये कहानी एकदम सच्ची है.

ये तब की घटना है जब में नमिता को चोद चुका था. ये घटना करीब 5 महीने पहले की है, मेरी दूसरी बहन जिसका नाम सोनिया है, वो 20 साल की है. दोस्तों में 27 साल का हूँ और में कानपुर में रहता हूँ. मेरी बहन सोनिया (18 साल की) जो कि हॉस्टल में रहकर पढ़ती है.

कानपुर से करीब 200 किलोमीटर दूर है. अब सोनिया की छुट्टियाँ शुरू होने को आई थी इसलिए वो घर आने वाली थी फिर उसने फोन करके बताया कि वो अपनी दोस्त के साथ ट्रेन से आ जाएगी, वैसे हमेशा जब सोनिया की छुट्टियाँ शुरू होती थी तो में ही उसे लेने जाता था.

अब जिस दिन सोनिया आने वाली थी उस दिन में घर पर ही था और उसके आने का इंतजार कर रहा था. फिर तभी फोन आया कि सोनिया ट्रेन से नहीं आ रही है, क्योंकि उसकी दोस्त अपने किसी रिश्तेदार के पास चली गई है इसलिए मुझे सोनिया को लेने जाना होगा. अब उस वक़्त करीब 3 बज रहे थे और सोनिया का हॉस्टल घर से करीब 200 किलोमीटर दूर था.

अब अगर में ट्रेन से जाता तो लेट हो जाता और उस दिन हॉस्टल में ही रहना पड़ता इसलिए मैंने माँ से कहा कि में सोनिया को लेने कार से चला जाता हूँ, तो माँ ने मुझे इज़्जात दे दी फिर में कार लेकर निकल पड़ा तो मुझे सोनिया के हॉस्टल पहुँचने में करीब 4 घंटे लग गये.

उस समय करीब 7 बज रहे थे फिर में जैसे ही वहाँ पहुँचा तो मैंने देखा कि मेरी प्यारी बहन सोनिया हॉस्टल के बाहर खड़ी होकर मेरा इंतज़ार कर रही थी, क्योंकि हॉस्टल की सभी लड़कियाँ चली गई थी. फिर मेरे पहुँचते ही उसने आकर मुझे गले लगा लिया और बोली कि भैया मुझे लगा की आप नहीं आओगे.

फिर मैंने कहा कि में तो आने ही वाला था, लेकिन तुमने ही तो मना कर दिया और तुमने बोला था कि तुम किसी सहेली के साथ आओगी फिर उसने माफ़ी माँगी, तो मैंने फिर से उसे गले से लगा लिया. अब जब सोनिया मुझसे गले लगी थी तो तब उसकी चूची मेरे सीने से सटी हुई थी, तो मैंने महसूस किया की सोनिया एकदम माल बन गई है, उसकी चूची एकदम टाईट और बड़ी-बड़ी लग रही थी.

अब मेरा तो लंड खड़ा होने लगा था फिर मैंने जल्दी से हॉस्टल से सोनिया का बैग लेकर कार में रखा और हॉस्टल वार्डन से इज़ाज़त लेकर हम दोनों वापस घर की तरफ निकल गये. उस दिन सोनिया ने फुल स्कर्ट और हाफ टॉप पहना था, जिस कारण से वो गजब की सुंदर लग रही थी. सोनिया की चूची तो उसके टॉप में दबी थी, जिस कारण वो एकदम टाईट लग रही थी.

अब अभी हम लोग 50 किलोमीटर ही चले थे कि रोड़ पर जाम लगा हुआ था. फिर मैंने जाकर पूछा कि ये जाम क्यों लगा है? तो वहाँ के लोगों ने बताया कि आगे एक ट्रॅक और बस में टक्कर हो गई है और रोड़ जाम हो गया है, ये रास्ता करीब 4-5 घंटे बाद ही खुलेगा. तो मैंने सोचा कि लगता है आज रात यही कहीं गुजारनी होगी.

फिर मैंने जाकर ये बात सोनिया को बताई और फोन पर मम्मी, पापा को भी बता दिया. तो उन्होंने कहा कि आज वही पर कहीं अगर होटल मिलता है तो रुक जाओं, वैसे भी काफ़ी रात हो गई है और कल सुबह वहाँ से चल देना.

मैंने कहा कि ठीक है और फिर मैंने कार वापस मोड़कर वहीं के पास के शहर में होटल ढूंढने लगा. उस समय रात के करीब 9 बजे थे तो जल्द ही हमें एक होटल दिखा.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

अब हमें रुकना था इसलिए कैसा भी होटल चलता. फिर मैंने वहाँ जाकर कमरा के लिए पूछा तो हमें एक कमरा मिल गया, वैसे वहाँ लड़कियों के साथ जाने की मनाही थी, लेकिन जब मैंने कहा कि वो मेरी बहन है, तो उन्होंने कुछ नहीं कहा और फिर में कार से बैग उतारकर और सोनिया के साथ होटल के कमरा में चला गया.

मैंने सोनिया से कहा कि तुम फ्रेश हो लो, तब तक में कुछ खाने के लिए देखता हूँ.

फिर होटल में जाकर मैंने खाने के लिए बोला, लेकिन छोटा होटल होने के कारण उन्होंने कहा कि यहाँ खाना नहीं मिलता है इसलिए में मार्केट में खाना लेने चला गया.

मैंने मार्केट से कुछ खाना लिया और अपने लिए एक वाईन की बोतल ले ली और साथ ही साथ एक लिम्का की बोतल ले ली, क्योंकि में बिना कोल्डड्रिंक के वाईन नहीं पीता था.

मैंने कमरे के बाहर आकर दरवाज़ा खुलवाया तो मैंने देखा कि सोनिया फ्रेश हो चुकी थी और बाथ लेने के कारण उसके बाल गीले थे और उसने स्लीवलेस एकदम पतली सी नाइटी पहनी थी, जिससे उसकी पेंटी और ब्रा हल्के-हल्के दिख रहे थे.

मैंने जैसे ही उसे देखा तो मेरा लंड खड़ा होने लगा. अब में सोचने लगा था कि यार मेरी बहन मेरी गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है? तो तभी मुझे एक आइडिया आया मैंने सोचा कि क्यों ना आज की रात अपने लंड की प्यास सोनिया से बुझाई जाए? फिर में टेबल पर खाना रखकर फ्रेश होने चला गया और वापस लौटकर खाना खाने बैठ गया.

धन्यवाद …

Leave a Reply

%d bloggers like this: